अगर आप चाहते है की AIDS हो जाए, तो ये काम जरुर करें…

HIV और एड्स में अंतर होता है. HIV एक विषाणु है, जिसकी वजह से ही एड्स होता है. वैज्ञानिको का मानना है की एड्स कोई बिमारी नहीं है, यह एक लक्षण है, जिसमे इंसान अपने शरीर की उस प्रतिरोधक क्षमता को खो देता है, जो शरिर में होने वाली बिमारियों से लड़ती हैं. एड्स से बचाव के लिए दवाइयों का परिक्षण चल रहा है, लेकिन फिलहाल अभी ये लाइलाज है.

तो अगर कोई चाहता है की उसे एड्स हो, तो वो ये सारे काम कर सकता है…..

  1. अपने जीवनसाथी के साथ विश्वासघात कर के किसी के भी साथ यौन सम्बन्ध बनाने से
  2. यौन संबंध बनाने में कंडोम का प्रयोग नहीं कर के
  3. अगर आप पहले से बीमार हैं और आपको खून की जरुरत है, तो उस खून की बिना HIV/AIDS जाँच करवाने से
  4. किसी और की इस्तमाल की हुई सुई या इंजेक्शन का इस्तेमाल करने से
  5. किसी और की शेविंग मशीन या शेविंग की हुई ब्लेड के इस्तेमाल से,,, कुछ बाल कटवाने या दाढ़ी बनवाने की सैलूनों में इस्तेमाल किया हुआ ब्लेड फिर से इस्तेमाल कर दिया जाता है

एड्स हो जाने पर उसके निम्न लक्षण दिखने लगेंगे, जिससे पता लग सकता है की एड्स हो चूका है:

  1. अचानक से शरीर का वजन घटने लगेगा.
  2. सुखी खाँसी आएगी
  3. हरदम बुखार जैसा रहेगा और रात में खूब सारा पसीना निकलेगा
  4. जांघ, कमर, गर्दन में हमेशा सुजन बना रहेगा
  5. कमजोरी महसूस करना
  6. शरीर पर लाल दाने या चकते का हो जाना
  7. ठण्ड महसूस होना

ये सारे लक्षण दूसरी बिमारियों में भी होते हैं, इसलिए किसी भी निष्कर्ष पर पहुँचने के पहले डॉक्टर से सलाह और जाँच करवाना जरुरी है.

कुछ ऐसे बातें हैं जिनको लेकर लोगो को भ्रम रहता है की एड्स फैलता है,  जबकि असलियत ये है की नहीं फैलता है:

  1. हाथ मिलाने से
  2. चूमने से,
  3. साथ खाने पिने से
  4. बातचीत करने या साथ घूमने फिरने से
  5. एक साथ हगने मुतने से

एड्स गर्ववती महिलाओं से उनके बच्चों को भी होता है.

 

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
(Visited 58 times, 1 visits today)