व्हाट्स एप्प ने बढाई मैसेज की सुरक्षा, लेकिन मैसेज बीवी के पास हुआ लिक.

दिन के शुरुवात होने के कुछ ही देर बाद जब काले बिल्ले की व्हाट्स एप्प मैसेज दिखाने लगा की अब से आपके सारे मैसेजेज सुरक्षित हैं, उन्हें आपके या उसके सिवा कोई भी नहीं पढ़ सकेगा, यानी भेजने और पाने वाले के अलावे बिच का कोई भी उस मैसेज को नहीं पढ़ पायेगा, यहाँ तक की खुद व्हाट्सएप्प भी नहीं पढ़ पायेगा की क्या मैसेज है.

इस मैसेज को पढ़ कर बिल्ला सोंचने लगा की व्हाट्स एप्प पर आने वाले मैसेजेज तो हम पढ़ते है, ये व्हाट्सएप्प कैसे पढ़ता होगा और अब कैसे नहीं पढ़ पायेगा. काफी सोंचने के बाद भी जबाब नहीं मिला तो काला बिल्ला भड़क उठा, डोनेशन देकर मैंने इंजीनियरिंग की पढाई यु ही नहीं की है की फालतू के मैटर में दिमाग लगाता फिरू, अच्चा ही ही की अब व्हाट्स एप्प का मैसेज को भी नहीं पढ़ पायेगा, वरना मुझे डर लगा रहता था की कहीं कोई मेरे मैसेजेज ना पढ़ ले और मेरा भांडा ना फुट जाए.

बिल्ला सारे दिन फेसबुक पर धार्मिक, सांस्कृतिक और नैतिक पोस्ट करता है, लोगो को ज्ञान पेलता है की ऐसे करो वैसे करो और वही बिल्ला व्हाट्स एप्प पर अपने मित्रमंडली के साथ चंचल हसीनाओं के हसीन फोटोज को शेयर करके अपने दोस्तों के चितवन को अशांत कर के शांति महसूस करता है.

अब उसके दिल से ये बोझ उतर गया की कोई भी उसके मैसेज को पढ़ ना ले. और इसी ख़ुशी में मोबाइल टेबल पर रख कर सिटी बजाता हुआ नहाने चला गया. थोड़ी देर नहाने के बाद जब नलके से पानी आना बंद हो गया तो उने अपनी पत्नी क आवाज लगायी, प्रिये जरा मोटर चला दो, टंकी में पानी ख़त्म हो गया है.

लेकिन बाथरूम के बाहर से प्रिये ने अप्रिय आवाज में कहा, कोई मोटर वोटर नहीं चलेगी, पुरे मोबाइल में तुमने अश्लीलता फैला रखी है, शर्म नहीं आती तुम्हे, आज रहो तुम बाथरूम के अन्दर ही. आज तुम्हारा पूरा व्हाट्स एप्प चेक करूंगी उसके बाद ही बाहर निकालूंगी.

बिल्ला ने अन्दर से पूछा की, तुम्हे कैसे पता की मैंने व्हाट्स एप्प में क्या क्या किया है? व्हाट्स एप्प के मैसेज तो कोई भी नहीं पढ़ सकता अब तो? पत्नी बोली, ओये घनचक्कर, मगर जिसके मोबाइल से भेजी गयी हो और और जिसके मोबाइल में प्राप्त हुई है वहाँ तो पढ़ी जा सकती है ना?

बिल्ले ने फिर पूछ, लेकिन तुमने मेरा मोबाइल खोला कैसे? वो तो लॉक है, उसमे तो पासवर्ड लगा हुआ है?

पत्नी बोली, मोबाइल का लॉक खुलेगा कैसे नहीं? पासवर्ड में तो मेरा ही नाम है ना?

इसके बाद काला बिल्ला नहाना भूल गया, क्योकि अब वो अपना माथा पिट रहा था.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
(Visited 63 times, 1 visits today)